उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय
संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश


संग्रहालय सूची

राज्य संग्रहालय, लखनऊ (1863)

राज्य संग्रहालय, लखनऊ (1863)

राज्य संग्रहालय, लखनऊ उ0 प्र0 का प्राचीनतम तथा विशालतम् बहुउद्देशीय संग्रहालय है। इसकी स्थापना सन् 1863 ई0 में लखनऊ डिवीजन के तत्कालीन कमिश्नर कर्नल एबट द्वारा सींखचे वाली कोठी में की गयी थी। सन् 1883 में यह प्रान्तीय संग्रहालय के रूप में लाल बारादरी में व्यवस्थित हुई। सन् 1950 में इसका नाम प्रान्तीय संग्रहालय के स्थान पर राज्य संग्रहालय रखा गया तथा वर्ष 1963 में नवीन भवन का निर्माण बनारसी बाग, प्राणि उद्यान में किया गया। इस संग्रहालय के संकलन में लगभग एक लाख से अधिक कलाकृतियां हैं, जिसमें पुरातत्व अनुभाग, चित्रकला अनुभाग, प्राणि शास्त्र अनुभाग, मुद्रा अनुभाग, कला एवं सज्जा कला अनुभाग और धातु कला अनुभाग आदि प्रमुख हैं। इसके साथ ही राज्य संग्रहालय, लखनऊ में एक वृहद पुस्तकालय भी है, जहां भारतीय संस्कृति, कला, पुरातत्व, इतिहास तथा प्राच्य विद्या से सम्बन्धित दुर्लभ पुस्तकें हैं, जो विशेष रूप से शोधार्थियों के लिये उपयोगी हैं। संग्रहालय ज्ञान का वातायन, भविष्य का शिक्षक, अतीत का संरक्षक एवं भविष्य का उन्नायक है। संग्रहालय सांस्कृतिक सम्पदा, ऐतिहासिक एवं पुरातातिवक धरोहरों को सुरक्षित एवं संरक्षित रखने का वह केन्द्र है, जहां प्राचीन कलाकृतियों को संग्रहीत कर राष्ट्र के अतीत की गौरवशाली संस्कृति का दर्शन शोधार्थियों बुद्विजीवियों तथा सामान्य जनमानस को कराया जाता है। संग्रहालय का कार्य कलाकृतियों एवं पुरावशेषों का संग्रह करना, संरक्षित करना, शोध करना तथा उन्हें प्रदर्शित करना है।

1. पुरातत्व वीथिका (प्रागऐतिहासिक काल से कुषाण काल)
2. पुरातत्व वीथिका (गुप्त काल से मध्यकाल तक)
3. जैन कला वीथिका
4. अवध की नवाबी कला वीथिका
5. मुद्रा वीथिका
6. अस्त्र-शस्त्र एवं धातु कला वीथिका
7. चित्रकला वीथिका
8. प्राणि शास्त्र वीथिका
9. विदेशी कला वीथिका
10. बौद्ध कला वीथिका



Copyright © 2013 उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश
Design by : उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश