उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय
संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश


संग्रहालय सूची

राजकीय पुरातत्व संग्रहालय, फर्रुखाबाद

राजकीय पुरातत्व संग्रहालय, फर्रुखाबाद

गंगा तट पर बसे महाभारतकालीन पांचाल, वर्तमान फर्रूखाबाद का इतिहास के आइने में महत्वपूर्ण स्थान है। पांचाल, कान्यकुब्ज, संकिशा आदि प्राचीन नगर फर्रूखाबाद की ऐतिहासिकता को प्रमाणित करते हैं। यह स्थल विश्वामित्र, कपिल, श्रृंगी, द्रोणाचार्य, च्यवन एवं अगत्स्य अगस्त ऋषि की तपोस्थली रही है। आज से लगभग 2600 वर्ष पूर्व भगवान गौतम बुद्ध ने चार माह वर्षावास में मानवता के कल्याणकारी संदेश का उपदेश संकिशा में ही दिया था। फर्रूखाबाद की पुरातात्विक ऐतिहासिकता को देखते हुए वहां से प्राप्त कलाकृतियों को सुरक्षित, संरक्षित एवं प्रदर्शित करने के उद्देश्य से संग्रहालय भवन का निर्माण कराया गया है।

Copyright © 2013 उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश
Design by : उत्तर प्रदेश संग्रहालय निदेशालय संस्कृति विभाग, उत्तर प्रदेश